July 12, 2024

लौह नगरी में गायत्री परिवार व पतंजलि योग समिति ने सूर्य नमस्कार कर निरोग रहने का दिया संदेश

जांजगीर, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्य तिथि में ग्राम पंचायत ओडेकेरा में स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान कार्यक्रम रखा गया। सरपंच भारद्वाज ने कुष्ठ मरोजों से भेदभाव को मिटाने के लिए उपस्थित सभी को प्रेरित किया गया। बोटलाल साहु जी ने बताया कि महात्मा गांधी ने कुष्ठ रोगियों की सेवा करके यह साबित किया है की कुष्ठ रोग स्पर्श करने से नही फैलता महात्मा गांधी का सपना था की हम भारत देश को कुष्ठ रोक से मुक्त करेंगे, इसी संदेश को जन जन तक पहुंचाने के लिए आज हमारे स्वास्थ विभाग के सभी कर्मचारी और खास कर मितानिन दीदी ओ द्वारा घर घर जाकर कुष्ठ के संभावित मरीजों को खोज कर निकाल रहे है ।
बी एस अहीर सर एनएमए ने बताया की कुष्ठ रोग कोई पूर्व जन्म की पाप नही है और न ही स्पर्श करने से फैलता है यह एक माइक्रो बैक्टेरियम लेप्री नामक जीवाणु से होती है और एक साध्य रोग है जिसका सभी सरकारी हॉस्पिटल में दवाई निः शुल्क उपलब्ध है, गौतम चंद्रा आरएचओ ब्लाक अध्यक्ष जैजैपुर ने कुष्ठ बीमारी के संबंध में जानकारी दिया कि कुष्ठ की दवाई सभी हैस्पिटलो में आसानी से मिल जाता है। जो पूर्णतः निः शुल्क है लेप्रोसी मरीजों की सघन खोज के लिए शासन ने काफी प्रयास कर रहे है सभी मितानिन दीदियों द्वारा घर घर जाकर सभी की जांच कर रहे है। कही भी तेलिया तामिया शुन्नापन दाग हो तो तत्काल हास्पिटल में जाकर जांच कराले। चंद्रा जी ने बताया की शरीर में कही भी यदि 1 से 5 दाग धब्बे होने पर या एक नर्व प्रभावित होने पर छह माह तक पीबी की दवाई खानी होती है। और 5 से अधिक दाग धब्बे हो या एक से अधिक नर्व प्रभावित होने पर 12 माह तक दवाई खानी पड़ती है ।जिससे बीमारी पूर्णतः ठीक हो जाती है और शरीर में होने वाले विकृतियों से बचाया जाता है ।आज के स्पर्श कार्यक्रम में उमा भारती साहु आरएचओ ,सुलोचना जाटवर प्रेरक घसनीन टंडन बी सी ,प्रेमबाई बंजारे एसपीएस, उत्तरा चंद्रा मितानिन ,दुर्गा आदित्य ,सरोजनी, अनीता, कलबाई, सरस्वती महंत , लक्ष्मीन, संतोषी, लीलाबाई, राजकुमारी, सामिन, कलरा बाई आदि सभी मितानिन व अन्य सदस्य गण उपस्थित रहे

Spread the love