May 27, 2024

दंतेवाड़ा विधायक देवती कर्मा को पुरानी पेंशन के लिए स्मरण ज्ञापन पत्र सौंपा गया

किरन्दुल-वर्ष 1998-99 के बाद तथा 2004 के पूर्व नियुक्त दंतेवाड़ा जिले के प्रदेश शिक्षक कल्याण संघ दंतेवाड़ा द्वारा, क्षेत्र की विधायक देवती कर्मा को स्मरण ज्ञापन सौंपा गया।ज्ञात हो कि संघ द्वारा प्रदेश के सत्तारूढ़ दल के सभी 70 विधायकों व मंत्रियों को 1998-2004 के बीच नियुक्त सभी शिक्षकों को संवैधानिक अधिकार “पुरानी पेंशन “प्रदान करने स्मरण ज्ञापन बजट सत्र के पूर्व दिया जा रहा है।उसी क्रम मे संघ द्वारा मुख्यमंत्री के नाम सौपे ज्ञापन के साथ विधायक को विस्तार से अवगत कराया गया कि हमारी नियुक्ति शिक्षा विभाग के आदेश पर नियमित पद के विरुद्ध हुआ था, 2001-2002 मे नियमित किया गया। वर्ष 2018 में सेवा का गणना कर संविलियन किया गया लेकिन हमारी संवैधानिक अधिकार पुरानी पेंशन से वंचित किया गया है। जब 2004 मे नवीन पेंशन योजना लागू किया जो 1998-99 के शिक्षकों के लिए नहीं था नियमों को नजरअंदाज कर 2012 मे हमारी प्रथम नियुक्ति तिथि से छेड़छाड़ कर 2012 मे हमें नवीन पेंशन योजना से जोड़ा गया जो न्यायसंगत नहीं था। ज्ञात हो कि कार्यभारित स्थापना एवं संविदा मे नियुक्त ऐसे कर्मचारियों जिनकी नियुक्ति 2004 के पूर्व की है तथा 2004 के बाद नियमित हुए हैं ,ऐसे कर्मचारियों को भी पेंशन नियम 1976,79 के तहत पुरानी पेंशन योजना का लाभ प्रदान किया जा रहा है।सिर्फ 1998-99 मे नियुक्त शिक्षकों के साथ ही भेद-भाव किया गया है।
यदि सरकार हमें पेंशन नियम 1976 ,79 के तहत पेंशन देती है तो अलग से नियम बनाने की आवश्यकता होगी ।हमारी एनपीएस मे कटौती राशि को जीपीएफ मे मर्ज करने पर शासन के खजाने में 700 करोड़ रुपये जमा होगी जिससे पेंशन देने मे किसी प्रकार का वित्तीय भार नहीं पड़ेगा। चूंकि छत्तीसगढ़ कांग्रेस पार्टी के 2018 के चुनावी जन घोषणा पत्र मे स्पस्ट वादा किया गया था कि सरकार मे आने पर एनपीएस के स्थान पर 2004 पूर्व की पुरानी पेंशन देने की कार्यवाही की जायेगी। शासन हमें नियुक्ति तिथि से पुरानी पेंशन देती है तो ही हमें पुरानी पेंशन योजना का लाभ मिल पायेगा। हमें कांग्रेस पार्टी के 50 विधायकों एवं मंत्रियों ने पहले भी हमारे अधिकार को उचित ठहराते हुए लिखित समर्थन दिया है। इस प्रकार विस्तार से अवगत कराने पर विधायक ने आश्वस्त किया कि बजट सत्र के दौरान मैं मुख्यमंत्री से मांग पूरी करने का अनुरोध करुंगी तथा राष्ट्र निर्माता शिक्षकों के भविष्य के साथ अन्याय होने नहीं दूंगी। ज्ञापन के दौरान दंतेवाड़ा जिले के सभी विकास खंडों से सैकड़ों शिक्षक उपस्थित रहे।प्रदेश शिक्षक कल्याण संघ के जिलाध्यक्ष जगरनाथ यादव कुआकोंडा ब्लॉक अध्यक्ष मनसुक कुंजाम महावीर नाग छबिल साहू केदार दास साहू कोमल सिन्हा व सभी विकास खंडों के पदाधिकारी सहित सैकड़ों शिक्षक उपस्थित रहे।सभी ने विधायक के प्रति आभार प्रकट किया।

Spread the love