July 12, 2024

पूर्व कुलपति ने किया तुस्मा में राष्ट्रीय सेवा योजना के कैंप का शुभारंभ

शिवरीनारायण — पंचायत भवन के पीछे शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तुस्मा में श्री महन्त लालदास महाविद्यालय शिवरीनारायण के द्वारा राष्ट्रीय सेवा योजना का शिविर लगाया गया है। इसका शुभारंभ 18 फरवरी 2022 को रविशंकर विश्वविद्यालय रायपुर के पूर्व कुलपति डॉ शिव कुमार पांडे के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ। इसमें राजेश्री महन्त रामसुन्दर दास जी महाराज ने अध्यक्षता की विशिष्ट अतिथि के रूप में तेली गाना बोर्ड छत्तीसगढ़ शासन के प्रथम अध्यक्ष संदीप साहू की गरिमामय उपस्थिति रही। प्राप्त जानकारी के अनुसार अतिथियों ने माता सरस्वती के तैल चित्र पर दीप प्रज्वलित करके राष्ट्रीय सेवा योजना के शिविर का विधिवत शुभारंभ किया। एनएसएस की छात्राओं ने सरस्वती वंदना एवं स्वागत गान प्रस्तुत की। अतिथियों का सम्मान साल, श्रीफल, पुष्पमाला एवं बैच लगाकर के किया गया। मुख्य अतिथि डॉक्टर पांडे ने कैंप की छात्र-छात्राओं तथा उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि एनएसएस से जुड़े हुए युवा हमारे भविष्य हैं। इनमें जनसेवा की अपार संभावनाएं हैं। एनएसएस के द्वारा इस तरह लगाए जाने वाले शिविर से इनमें राष्ट्रीयता की भावना उत्पन्न होती है। यह हमें मिल जुल कर रहना सिखाता है। उन्होंने कहा कि उम्मीद करता हूं कि इस शिविर से आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा। जिस गांव में यह शिविर लगा है वहां आप अपना छाप छोड़ कर जाएं यही इस शिविर की सफलता होगी। कार्यक्रम की अढध्यक्षता कर रहे छत्तीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री महन्त जी महाराज ने कहा कि ग्राम तुस्मा भगवान शिवरीनारायण का अंग है। यहां के किसानों के द्वारा उत्पन्न किया गया चाँवल भगवान को भोग लगता है, जिसका प्रसाद हम सभी प्राप्त करते हैं। नरवा, गरवा, घुरवा बारी का शुभारंभ राज्य के मुख्यमंत्री ने किया है जिसका लाभ छत्तीसगढ़ वासियों को प्राप्त हो रहा है। राष्ट्रीय सेवा योजना से हममें अपने कर्तव्य पथ पर चलने का भाव जागृत होता है। आप सब को शुभकामनाओं के साथ बधाई कि इसके शुभारंभ के अवसर पर पूर्व कुलपति जी सहित तेली घानी बोर्ड के अध्यक्ष जी का भी आगमन हुआ है। कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त तेली घानी बोर्ड के अध्यक्ष साहू जी ने अपना अनुभव सुनाते हुए कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना से ही मुझे पहचान मिली थी पूरे मध्यप्रदेश में हम लोगों के शिविर को प्रथम स्थान प्राप्त हुआ था जिसका नेतृत्व करने का सौभाग्य मुझे मिला। इस तरह के शिविर के आयोजन से छात्र-छात्राओं में व्यक्तित्व का विकास होता है। हमें भी अपने जीवन में इसका भरपूर लाभ मिला। समाजसेवी सुबोध शुक्ला ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार के नरवा, गरवा, घुरवा, बारी का एक समग्र मॉडल राजेश्री महन्त जी महाराज स्वयं हैं। उनका इस गांव में भी बहुत बड़ा गौशाला है। इस तरह के अनेक गौशाला का संचालन वे सेवा भावना से बिना किसी अनुदान के परंपरागत रूप से कर रहे हैं। लोगों को  दुबे जी, जनपद सदस्य कमलेश जी एवं सरिता साहू ने भी संबोधित किया कार्यक्रम की समाप्ति के पश्चात सभी अतिथियों ने ग्राम तुस्मा में शिवरीनारायण मठ के द्वारा संचालित गौशाला का अवलोकन किया। इस अवसर पर विशेष रूप से रायपुर से आई हुई सरिता पांडे, दीवान, मठ मंदिर के मुख्तियार सुखराम दास जी, मीडिया प्रभारी निर्मल दास वैष्णव,  महन्त लालदास महाविद्यालय के प्राचार्य कमलेश पटेल, प्रधानाचार्य जेआर कश्यप, प्रोफेसर कौशिक, ताम्रध्वज पटेल, राजेश श्रीवास, इतवारू गोंड, कमलेश पटेल, शिवकुमार साहू, गौतम साहू, बलराम पटेल, पुनीराम साहू, घनाराम साहू, धन्नू साहू ,बरतराम यादव, सहित अनेक गणमान्य जन एवं शिविर में भाग लेने वाले छात्र छात्रा तथा पुलिस प्रशासन के लोग उपस्थित थे!

Spread the love