March 1, 2024

अग्र रत्न सम्मान से नवाजे गए कोलकाता के समाजसेवी राजकुमार मित्तल

महाराजा अग्रसेन विद्यापीठ देहरादून उत्तराखंड ने किया राजकुमार मित्तल का सम्मान

अंतर्राष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन की संस्था में एक ईंट-एक रुपया की योजना को मूर्त रूप देने हेतु मित्तल को मिला सम्मान

सक्ती- महाराजा अग्रसेन विद्यापीठ देहरादून उत्तराखंड द्वारा 23 जनवरी 2022 को लगभग 20 एकड़ भूमि पर बोर्डिंग स्कूल की स्थापना कर इसका शुभारंभ किया गया, तथा इस अवसर पर कर्मठ समाजसेवी डॉ विजेंद्र अग्रवाल के मार्गदर्शन में स्थापित हुई इस महाराजा अग्रसेन विद्यापीठ देहरादून द्वारा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर महाराजा अग्रसेन के सिद्धांत एक ईंट-एक रुपया पर अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन के माध्यम से इस कार्य को गति देने के लिए दृढ़ संकल्पित सम्मेलन के अध्यक्ष राजकुमार मित्तल को अग्र रत्न सम्मान से नवाजा गया,तथा इस अवसर पर देश-विदेश की अन्य अग्रवाल समाज कीविभूतियों का भी विभिन्न सेवा के क्षेत्रों में कार्य करने के लिए सम्मान किया गया

तो वही महाराजा अग्रसेन विद्यापीठ की स्थापना विश्व स्तरीय शिक्षा बच्चों को संपूर्ण छात्रवृत्ति के साथ उपलब्ध करवाने की सोच एवं परिकल्पना के तहत की गई है, एवं अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन के अध्यक्ष राजकुमार मित्तल को मिले इस सम्मान पर जहां सम्मेलन के महामंत्री प्रदीप सराफ, उपाध्यक्ष मीना गोयल नेपाल, कोषाध्यक्ष गणेश भरतीया, संगठन मंत्री  मनीषा मित्तल सिमडेगा झारखंड, अग्र ज्योति पत्रिका की संपादक का उषा केडिया मैसूर कर्नाटक सहित सभी केंद्रीय/ प्रांतीय/ जिला एवं स्थानीय
इकाइयों के पदाधिकारी/ सदस्यों ने उन्हें शुभकामनाएं देते हुए उज्जवल भविष्य की कामना की है,तो वहीं अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन संस्था द्वारा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक ईट-एक रुपया के प्रकोष्ठ की स्थापना कर इसके माध्यम से विगत कई वर्षों से निरंतर सेवा के कार्य किए जा रहे हैं,तथा समाज बंधुओं से यथोचित यथाशक्ति सहयोग राशि प्राप्त कर समाज के जरूरतमंद लोगों को कोविड-19 महामारी के दौरान भी इस प्रकोष्ठ में जमा धनराशि से सहयोग पहुंचाया गया

वहीं अंतरराष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन के अध्यक्ष राजकुमार मित्तल ने भी अग्र रत्न से सम्मानित होने पर कहा है कि आज यह सम्मान पूरी दुनिया के समाज बंधुओं को समर्पित है, तथा सभी के सहयोग से आज उन्हें महाराजा अग्रसेन विद्यापीठ देहरादून उत्तराखंड सम्मानित किया है,तथा वे अपने आपको गौरवान्वित महसूस करते हैं, कि इस क्षेत्र में कार्य करते हुए उन्हें यह सम्मान मिला है, तथा आने वाले समय में भी वे महाराजा अग्रसेन के सिद्धांतों को दुनिया के प्रत्येक अग्रवाल बंधु तक पहुंचाने का कार्य सभी के सहयोग से करेंगे एवं मित्तल ने महाराजा अग्रसेन विद्यापीठ देहरादून उत्तराखंड के मार्गदर्शक डॉ विजेंद्र अग्रवाल एवम सभी पदाधिकारी/ सदस्यों को आभार व्यक्त करते हुए इस विद्यापीठ का लाभ देश दुनिया के सभी अग्रवाल बच्चों को मिलने की बात कही है

वही 23 जनवरी 2022 को इस विद्यापीठ के लोकार्पण अवसर पर भारत सरकार के गृह मंत्री अमित शाह ने भी अपने संदेश के माध्यम से कहा था कि

मुझे यह जानकर अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि देहरादून, उत्तराखण्ड में 20 एकड़ भूमि पर “महाराजा अग्रसेन विद्यापीठ देहरादून के नाम से सभी आधुनिक सुविधाओं से परिपूर्ण बोर्डिग स्कूल की स्थापना की जा रही है, जिसका लोकार्पण नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जी के जन्मदिन के शुभअवसर पर दिनाँक- 23 जनवरी, 2022 को किया जा रहा है। इस अवसर पर एक कॉफी टेबल बुक का प्रकाशन भी किया जा रहा है,यह अत्यंत गौरवान्वित होने का क्षण है कि यह स्कूल महान सपूत स्वतंत्रता सेनानी सेठ चोखामल अग्रवाल की स्मृति में बनाया जा रहा है। यह बोर्डिंग स्कूल तीसरी से बारहवीं कक्षा तक होगा, जिसमें मेधावी व जरूरतमंद छात्र-छात्राओं को शत-प्रतिशत छात्रवृति का प्रावधान भी किया जा रहा है, जो कि प्रशंसनीय है,आज हम नए भारत की ओर अग्रसर हैं। माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में घोषित ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020’ भारत राष्ट्र के लिए सतत एवं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का एक सुहद्ध आधार के रूप में हमारे सम्मुख हैं। वैश्विक स्तर पर भारतीय शिक्षण व्यवस्था की गरिमा को बढ़ाने और वैश्विक मानकों के अनुसार भारतीय शिक्षण पद्धति का तालमेल बेहतर बनाने के दृष्टिकोण से नवीन राष्ट्रीय शिक्षा नीति को अपनाया गया है।

मैं कॉफी टेबल बुक के सफल प्रकाशन और कर्मयोगी डॉ. बिजेन्द्र अग्रवाल, चेयरमैन महाराजा अग्रसेन विद्यापीठ देहरादून व उनकी पूरी टीम को बधाई और शुभकामनाएं प्रेषित करता हूँ। मुझे विश्वास है कि आप सभी इसी प्रकार से आगे भी समाज के लिए शिक्षा के क्षेत्र में अपना योगदान देते रहेंगे

Spread the love