June 16, 2024

बच्चे एवं युवा वर्ग ही हैं देश का भविष्य, हमें बच्चों को नशे की लत से करना होगा दूर– नम्रता पटेल

सीसीएफ की वर्चुअल कार्यशाला में शामिल हुई जिला बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष नम्रता पटेल

सक्ती-सीसीएफ चाइल्ड कंजर्वेशन फाउंडेशन की 83 वी वर्चुअल कार्यशाला में बच्चों में बढ़ती नशीली दवाओं की आदत के कारण और नियंत्रण के तरीके विषय पर कार्यशाला की मुख्य वक्ता डॉक्टर दुर्गा त्रिपाठी ने कहा की ऐसे बच्चे अधिकतर पारिवारिक तौर पर किसी ना किसी हादसे के शिकार होते हैं या परिवार की किसी सदस्य से प्रेरित होकर वह नशा करते हैं और नशा के आदि हो जाते हैं, ऐसे बच्चों को नशा मुक्ति केंद्र में चिकित्सा व परामर्श की आवश्यकता होती है इस विषय को आगे बढ़ाते हुए डॉक्टर दुर्गा त्रिपाठी ने बच्चों में बढ़ती नशीली दवाओं की आदत के कारण और नियंत्रण के उपाय पर प्रकाश डाला

फाउंडेशन के सचिव डॉक्टर कृपाशंकर चौबे ने बच्चों में नशीली दवाओं के दुरुपयोग के खिलाफ जेजे एक्ट अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों पर प्रकाश डाला, फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ राघवेंद्र शर्मा ने कार्यशाला अध्यक्षीय उद्बोधन के पश्चात आभार व्यक्त किया उक्त कार्यशाला में छत्तीसगढ़ व अन्य राज्यों के बाल कल्याण समिति जेजे बोर्ड के मेंबर सम्मिलित हुए

साथ ही उक्त कार्यशाला में जिला बाल कल्याण समिति जांजगीर चांपा की अध्यक्ष नम्रता पटेल ने भी शामिल होकर अपने सुझाव एवं विचार रखें तथा वर्चुअल कार्यशाला के दौरान नम्रता पटेल ने कहा कि आज पूरे देश में बच्चों में नशे की आदत पड़ती जा रही है, तथा प्लेटफार्म एवं अन्य स्थानों पर भी ऐसे बच्चे ट्रेनों में घूम घूम कर नशा भी करते हैं, तथा समय-समय पर विभिन्न जागरूकता अभियान चलाकर ऐसे बच्चों को नशे की आदत से अलग करने प्रयास किए जा रहे हैं तथा आज का युवा वर्ग देश का भविष्य है अतः हमें युवा वर्ग एवं बच्चों को नशे की आदत से दूर रखने के लिए और अधिक सकारात्मक प्रयास करने होंगे

Spread the love