July 13, 2024

किरन्दुल गजराज कैम्प में मनाया गया मातर पर्व

किरंदुल-किरंदुल नगर के गजराज कैम्प में प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी बुधवार को मातर हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।
मातर त्यौहार दिवाली के बाद मनाया जाता है एवं गायों की पूजा की जाती है और मातर का अर्थ होता है मां और तर् मतलब होता है शक्ति को जगाना (माँ की शक्ति को जगाना )इस पर्व में गाय की पूजा की जाती है छत्तीसगढ़ में यह पर्व मुख्य रूप से यादव रावत ठेठवार पाहटिया लोग के द्वारा मनाया जाता है साथ ही इसमें सभी जाति के लोग सम्मिलित होते हैं एवं यादव समुदाय के लोग घर घर में जाकर नाचते हैं और दोहा कर इस पर्व को धूम धाम से मनाया गया।

Spread the love