July 12, 2024

बिटिया होने पर “बिटिया” से श्री बालाजी हॉस्पिटल मे निःशुल्क डिलीवरी

 देश का एक मात्र अस्पताल जहां बेटी के जन्म पर नहीं लिया जाता कोई शुल्क

 पिछले दो वर्षों में अब तक हो चुकी है 200 बेटियों की डिलीवरी
 ‘अनोखी पहल’ में भगवान गणेश को एक किलो मोदक चढ़ाकर हुई 35 की डिलीवरी
 अस्पताल ने अब लांच किया नया ANC पैकेज, 5000 की जांचें अब होंगी 1999 में
 
रायपुर. भर जाता है घर खुशियों से आती है ऋतु मस्तानी ठुमक -ठुमक कर चलती है जब
मेरी बिटिया रानी, मेरी बिटिया रानी हर घर में नन्ही किलकारी गूंजे और बेटियों के जन्म पर खुशियां महके इसके लिए मोवा स्थित श्री बालाजी अस्पताल करीब 2 वर्षों से एक अनोखी पहल कर रह रहा.  ”बिटिया “ की इस पहल के तहत अब तक करीब 200 डिलीवरी हो चुकी है. आपको बता दें कि श्री बालाजी हॉस्पिटल देश का एक मात्र ऐसा अस्पताल है जहां डिलीवरी के बाद बेटियों के जन्म होने पर कोई भी  शुल्क नहीं लिया जाता, यहां तक की डिलीवरी सिजेरियन हो तो भी शुल्क न ली जाने की पहल अस्पताल कर रहा है.

अस्पताल के डायरेक्टर डॉ देवेंद्र नायक कहते है कि अब तक 200 डिलीवरी पिछले दो वर्षों में हो चुकी है. वहीं गणेश चतुर्थी के दौरान आयोजित की गई ‘अनोखी पहल’ के तहत करीब 35 डिलीवरी हुई, जिसमें बतौर फीस अस्पताल में भगवान गणेश को 1 किलो मोदक का प्रसाद चढ़ाया गया. डॉ देवेंद्र नायक ने बताया कि इस दौरान करीब 95 महिलाओं ने आगामी डिलीवरी के लिए अपने रजिस्ट्रेशन भी कराया है
 
6 महीने के लिए ANC पैकेज लांच
अस्पताल प्रबंधन ने  “बिटिया“ योजना के तहत 6 महीने के लिए एक विशेष पैकेज लांच किया है. इसमें गर्भावस्था में स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर से तीन परामर्श के साथ-साथ गर्भास्था के तीसरे महीने के बाद से होने वाले करीब 15 जांच जिसका शुल्क करीब-करीब 5 हजार रुपए का होता है उसे पैकेज के माध्यम से 1999 रूपए में दिया जा रहा है.

Spread the love