March 1, 2024

93 करोड़ की लागत से बनने वाली सड़क 3 साल में भी नहीं हो पाई पूरी

शक्ति से टूण्डरी मार्ग की अपूर्ण स्थिति के चलते जान जोखिम में डालकर यात्रा कर रहे क्षेत्रवासी

एडीबी योजना के तहत बन रही है शक्ति से टूण्डरी तक करीब 93 करोड़ की लागत से सड़क

वर्ष 2019 में प्रारंभ हुआ था निर्माण कार्य, 20 माह में होना था पूरा, किंतु 34 माह बीतने के बावजूद सड़क पड़ी है अपूर्ण

कनेटी का पुल बनने के बाद पुनः हो गया गुणवत्ता में फेल,फिर से बनाया जा रहा निर्माण एजेंसी द्वारा

सक्ती– छत्तीसगढ़ राज्य सड़क क्षेत्र परियोजना एडीबी प्रोजेक्ट के अंतर्गत लोक निर्माण विभाग के माध्यम से नवीन शक्ति जिले के शक्ति से अड़भार, भदरी चौक होते हुए टूण्डरी तक करीब 93.465 करोड़ की लागत से 31. 481 किलोमीटर सड़क का निर्माण कार्य विगत 13 सितंबर 2019 को प्रारंभ हुआ था, जिसमें निर्माण कार्य की समय सीमा अवधि 20 माह निर्धारित की गई थी, तथा उपरोक्त मार्ग में मार्ग की चौड़ाई 7/10 मीटर एवं मार्ग में मध्यम पुल 5 नग,पाइप, स्लेब,बॉक्स पुल 86 नग बनाए जाने थे, तथा उपरोक्त निर्माण कार्य प्रारंभ होने के बाद आज जुलाई 2022 को लगभग 34 माह पूर्ण हो चुके हैं, किंतु आज पर्यंत तक यह सड़क पूर्ण नहीं हो पाई है

तथा खास बात यह है कि उपरोक्त मार्ग में शक्ति से अड़भार के बीच कनेटी पुल जो कि पूर्व में निर्माण एजेंसी द्वारा बनाया गया था,तथा बनाने के बाद इस पुल में आवागमन प्रारंभ भी हो गया, किंतु बाद में एकाएक गुणवत्ता में कमी के चलते पुल में खराबी आ गई जिसे पुनः बनाया जा रहा है, जो कि आज पर्यंत तक पूर्ण नहीं हुआ है, किंतु उपरोक्त पुल पर आवागमन बारिश को देखते हुए प्रारंभ जरूर कर दिया गया है किंतु इस क्षेत्र के लोग पुल के ऊपर से जान जोखिम में डालकर आवागमन एवं यात्रा कर रहे हैं, वहीं निर्माण एजेंसी द्वारा लगभग 6 माह पूर्व ही टेमर से अड़भार तक कुछ सड़क को डब्ल्यूबीएम एवं चौड़ीकरण तो कर दिया गया है, किंतु सीमेंट कंक्रीटीकरण एवं डामरीकरण नहीं होने के चलते बरसात में डब्ल्यूबीएम सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं, जो कि आए दिन मोटरसाइकिल वाहन चालकों को दुर्घटना का न्योता दे रहे हैं

किंतु विडंबना यह है कि जो कार्य 20 माह में पूर्ण होना था उसे 34 माह हो चुके हैं, किंतु इसके बावजूद क्या विभाग कुंभकरण नींद में सो रहा है, कि उसे फुर्सत नहीं कि क्षेत्र में बनने वाली करीब94 करोड़ की लागत की सड़क को समय सीमा में पूर्ण कराया जाए तथा निर्माण एजेंसी द्वारा बीच-बीच में काम प्रारंभ कर बीच-बीच में अधूरा छोड़ दिया गया है जिससे मार्ग में रात को यात्रा करने वाले लोगों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, वहीं बारिश नहीं होती तो सड़कों पर भारी धूल उड़ती है, तथा बारिश में तो पूरी यात्रा जोखिम भरी हो चली है

 

क्षेत्र के नागरिकों को उम्मीद थी कि इस वर्ष 2022 में लगभग 94 करोड़ की सुंदर सड़क पर उन्हें चलने का आनंद मिलेगा,किंतु इस वर्ष 2022 में भी ऐसा लगता है कि क्षेत्र के नागरिकों को इस नई सड़क का पूर्ण रूप से यात्रा का लाभ नहीं मिल पाएगा तथा यह सड़क कब पूर्ण हो पाएगी यह तो समय ही बताएगा किंतु वर्तमान स्थिति में क्षेत्र के नागरिक इस सड़क पर आवागमन करने से बहुत परेशान हैं

 

Spread the love