March 1, 2024

बाढ़ में फंसे ट्रक चालकों ने ली राहत की सांस, अब शुरू हुआ आवागमन

सुकमा। बस्तर अंचल के कोंटा और भद्राचलम में आई भयंकर बाढ़ के कारण जनजीवन प्रभावित हो गया है। वहीं बाढ़ का सीधा असर परिवहन सेवा पर भी पड़ा है। एनएच 30 से छत्तीसगढ़ से आंध्र, तेलंगाना और तमिलनाडु को जाने वाले सभी ट्रक पिछले 8 दिनों से अलग-अलग स्थानों पर खड़े थे।

अब ट्रक चालकों को गुरुवार को राहत मिल गई है। 11 जुलाई के बाद आज 9वें दिन एनएच 30 खुल गया है। रास्ता खुलते ही सुबह से ट्रकों और वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई है। बताया जा रहा है कि 11 जुलाई की रात से शबरी नदी का पानी सड़क पर आ गया था। इसके चलते कोंटा के समीप विरापुरम के पास ट्रकों का जाम लगा था। ट्रक चालक पिछले 8 दिनों से एनएच के जंगलों में रात काट रहे थे।

Spread the love