June 21, 2024

मुख्य कार्यपालन अधिकारी राजपूत सेवानिवृत्त

जैजैपुर,यहां पर जनपद पंचायत जैजैपुर में यह परंपरा चली आ रही है कि कोई भी कर्मचारी या अधिकारी सेवानिवृत्त होने पर उन्हें विदाई देने की परंपरा है। उसी कड़ी में कम समय में रहे बीएस राजपूत मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत जैजैपुर के द्वारा कम समय में ही अपनी सेवा देकर सेवानिवृत्त हुए। जिसकी विदाई समारोह के लिए जनपद पंचायत जैजैपुर के स्टॉप लगे रहे वहीं पर सरपंच राधेश्याम चंद्रा ने कहा कि कम समय में ही सभी ग्राम पंचायतों का भ्रमण करते रहे अनेकों पद पर राजपूत कार्य किए उनके परिवार एवं स्वास्थ्य के शुभकामना करता हूं। वहीं पर सरपंच प्रफुल्ल कुमार आजाद ने कहा कि उनके भविष्य के शुभकामनाएं करता हूं। राजकुमार शास्त्री ने कहा कि सरल सजग एवं व्यक्तित्व के धनी थे हर व्यक्ति बीएस राजपूत को याद करेगा तथा उनके परिवार एवं स्वास्थ्य की कामनाएं की वहीं पर इंजीनियर धनंजय चंद्रा ने कहा सरल सहज स्वभाव के धनी हमारे मुख्य कार्य पालन अधिकारी रहे इनसे हम किसी भी समय मिल सकते थे और वह हमारे काम को हंसते हुए उस कार्य को करते थे । जनपद पंचायत जैजैपुर के ब्लॉक उपाध्यक्ष उमाशंकर चंद्रा ने कहा कि हमारे बीच में कम समय पर रहने वाले यह प्रथम मुख्य कार्यपालन अधिकारी राजपूत सर रहे हैं जो हंसमुख बातों से ही दिल को जीत रहता है मिलनसार रहे हम सभी लोगों का बीएस राजपूत ने दिल जीत लिया और जब भी हम उनके पास जाते हैं तो वे हमें मार्गदर्शन तथा काम करने में सहयोग की बात कही तथा उनके परिवार के शुभकामनाएं एवं अच्छे स्वास्थ्य की शुभकामनाएं के साथ उज्जवल भविष्य की बारे में बधाई दी।

 

जहां पर जनपद पंचायत जैजैपुर के कर्मचारी उपस्थित रहे वहीं पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी बीएस राजपूत अपने जीवन का परिचय दिया और कहा कि उन्होंने अनेक पदों पर रहे जो आज 39 साल के बाद जैजैपुर से सेवानिवृत्त हो रहा हूं आप लोगों को मैंने अपने कर्तव्य के प्रति काम करने के लिए डांटा ,फटकारा ताकि आप लोग अच्छे से काम करें और अपने कार्यालय तथा अपना खुद का नाम रोशन करें अपने विद्यार्थी जीवन का भी उन्होंने परिचय दिया उन्होंने विद्यालय में प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण होने एवं अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने की बात कही अंत में उन्होंने यह कहा कि मेरे से जाने या अनजाने में गलती हो गई है उसके लिए क्षमा चाहता हूं आप जब भी आए मेरे घर का द्वार आप सभी लोगों के लिए खुला है जो आप लोगों ने मुझे प्रेम स्नेह एवं सम्मान दिया। जनपद पंचायत जैजैपुर के कर्मचारियों ने स्मृति चिह्न भी राजपूत को प्रदान किए। इस कार्यक्रम को कन्हैया लाल बर्मन ने संचालन किया।

Spread the love