July 13, 2024

मानव तस्करी पर रोक लगाने हेतु रेलवे के माध्यम से किए जाने वाले प्रभावी उपायों पर रायपुर में सेमीनार का आयोजन

रेलवे सरक्षा बल, रायपुर के द्वारा मानव तस्करी के संबंध में सेमीनार का आयोजन

रायपुर-अमिय नंदन सिन्हा (भारतीय रेल सुरक्षा बल सेवा) महानिरीक्षक-सह-प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त, रेलवे सुरक्षा बल, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे बिलासपुर मुख्य अतिथि के रूप में डॉक्टर नेहा सिंह यूनिसेफ, किशोर अधिकारिता पर राज्य सलाहकार रायपुर और अवैध व्यापार, बाल विवाह की रोकथाम, डॉक्टर प्रोगिला सिंह पूर्व प्रोफेसर मनोविज्ञान पंडित रविशंकर विश्व विद्यालय रायपुर एवं भूपेन्द्र नायक सहायक श्रम अधिकारी रायपुर की उपस्थिति में दिनांक 13.04.2022 को मानव तस्करी जैसे जघन्य अपराध को रेलवे के माध्यम से किए जाने पर प्रभावी रोक लगाए जाने के उपायों पर उल्लास अधिकारी क्लब, डब्ल्यू.आर.एस. कालोनी रायपुर में समीनार का आयोजन किया गया।

उक्त सेमीनार में संजय कुमार गुप्ता, मंडल सुरक्षा आयुक्त/रेलवे सरक्षा बल, रायपुर, सहायक सुरक्षा आयुक्तों सहित तीनों मंडल अन्य अधिकारी एवं बल सदस्य, मिनिस्ट्रीयल स्टाफ तथा तीनों मंडलों के AAHT (Action Against Human Trafficking) हेतु नामित बल अधिकारिया व बल सदस्य तथा शासकीय रेल पुलिस अधिकारी एवं स्टाफ (रेलवे सुरक्षा बल के कुल 100 एवं शासकीय रेल पुलिस के कुल 10) उपस्थित थे। सेमीनार के दौरान मुख्य अतिथिगणों द्वारा रेलवे के माध्यम से मानव तस्करी की रोकथाम के उपाय के संबंध में महत्वपूर्ण एवं उपयोगी जानकारी/दिशा-निर्देश दिया गया। सभ्य सामाज में मानव होकर मानव की तस्करी/मानव का अवैध व्यापार चाहे वो जिस भी रूप में हो, जिसके लिए भी हो बहुत बड़ा कलंक है, एक सामाजिक बुराई है तथा अपराध है। ऐसे अपराध की रोकथाम हेतु हम रेलवे सुरक्षा बल परिवार, रेलवे सुरक्षा बल के निर्धारित मूल कर्तव्यों का पालन करते हुए रेलों के माध्यम से मानव तस्करी की रोकथाम करने का प्रयास करेंगे के संबोधन के साथ मंडल सुरक्षा आयुक्त, रेलवे सरक्षा बल, रायपुर के द्वारा मानव तस्करी के संबंध में आयोजित सेमीनार का समापन किया गया।

Spread the love