July 12, 2024

जेल की हवा खा चुका बालोद का सबसे बड़ा ठग लक्ष्मण देवांगन की कहानी, कैसे किसानों को ठगीकर जमीनों की काला बाजारी को दे रहा अंजाम

छत्तीसगढ़/बालोद- प्रदेश के बालोद नगर का सबसे विवादित और जमीनों के मामले में सबसे बड़ा ठग किसानों की गाढ़ी कमाई को डकार ने वाला कई व्यापारियों के पैसों को हजम करने वाला ठग लक्ष्मण देवांगन इन दिनों पत्रकारिता की आड़ लेकर अपने आप को पाक साफ करने में लगा है दरअसल यह वही लक्ष्मण देवांगन है जिसने भिलाई के नेहरू नगर चौक में एक रेस्टोरेंट के मामले में करोड़ों का घोटाला किया है वहीं कई दिनों तक भिलाई के स्मृति नगर में छुप कर रहा है तो वही धमतरी के अर्जुनी चौक पर रेस्टोरेंट के नाम पर भी ठगी की इतना ही नहीं इस लक्ष्मण देवांगन ने ठगी करने का सिलसिला यहीं नहीं थमा बालोद नगर के कई व्यापारियों को यह ठग चुका है वर्तमान में यह सिवनी के पास किसानों के खेतों पर प्लाट कटिंग का काम कर रहा है और उसे जमकर गाड़ी कमाई कर रहा है लक्ष्मण देवांगन की बात करें तो सबसे विवादित इंसान पूरी बालोदजिले में नजर आता है लोगों के बारे में गलत लिखना इसकी आदत बन चुकी है कभी किसी धर्म कभी किसी समाज के बारे में यह गलत लिखता रहता है इससे पहले भी यह एक समाज के बारे में लिखने के कारण अपराध दर्ज होने से फरार रहा है वर्तमान न्यूज़ पोर्टल जो बिना रजिस्टर्ड है उसे चलाकर तथ्य हीन खबरों को प्रकाशित कर रहा है कुछ भी लिख देता है लक्ष्मण को चार्ल्स सोभराज कहें या सबसे बड़ा ठग नटवरलाल कहे यह कहना बहुत मुश्किल है।

लक्ष्मण देवांगन की ठगी तरीका-
ग्राम पंचायत सिवनी की एक जमीन जो लक्ष्मण देवांगन के परिवार के नाम पर थी जिसका खसरा नंबर 134/1 है l जिसे लक्ष्मण देवांगन के द्वारा दलाली कर बालोद के संतोष जैन पिता रामलाल जैन को जमीन की पूरी रकम लेकर उसके नाम जमीन रजिस्ट्री कर दी l कुछ दिनों बाद उसी खसरा नंबर की जमीन 134/1 को बालोद निवासी ममता मायती सोनी पति चितरंजन सोनी चंद्र ज्वेलर्स बालोद को पूरी रकम प्राप्त कर उक्त जमीन की रजिस्ट्री कर दी l रजिस्ट्री पश्चात ममता मायती सोनी द्वारा तत्काल उस पर भवन निर्माण कर लिया गया l इस तरह उसी जमीन को जो पहले खरीदा व्यक्ति संतोष जैन वह आज तक अपनी जमीन के लिए चक्कर लगा रहा हैं l उक्त जमीन पूर्व में लक्ष्मण देवांगन के परिवार के नाम से थी l इसी तरह कई ऐसे मामले हैं जिसमें जमीन खरीदी बिक्री के नाम पर फर्जीवाड़े की शिकायत बालोद थाने में की जा चुकी है l इसका कई लोगों से वाद विवाद एवं सरेआम रोड में हाथापाई भी हो चुकी है l लक्ष्मण देवांगन के द्वारा बालोद के बहुत से लोगों से चेक देकर रकम प्राप्त कर लिया है परंतु रकम वापस करने की बारी आई तो चेक बाउंस हो गया l एक ऐसे ही मामले में बालोद के धरमचंद जैन एवं जितेंद्र कुमार टाटिया से दस लाख रु रुपए लेकर डकार गया l जिसकी शिकायत पर लक्ष्मण देवांगन को बालोद न्यायालय से सजा भी हो चुकी है एवं कई ऐसे मामले अभी लंबित हैं l यह व्यक्ति अपने अपराध को छुपाने एवं अवैध प्लाटिंग का कारोबार जारी रखने के लिए उसके बाद यह अपराधी व्यक्ति लक्ष्मण देवांगन अपना दबदबा बनाने की नियत से एक अखबार की एजेंसी लेकर एवं एक न्यूज़ पोर्टल डीएनए छत्तीसगढ़ डॉट कॉम के नाम से पत्रकारिता प्रारंभ कर अब ऐसा समझ रहे हैं कि यह बहुत बड़े पत्रकार बन गए हैं l जबकि न्यूज़ पोर्टल का कोई वजूद नहीं क्योंकि ये सूचना एवम प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार से पंजीकृत नहीं होता और एजेंट पत्रकार नहीं होता l

जल्द होगी जमीन की शिकायत सलाखों के पीछे दिखेगा लक्ष्मण देवांगन-
एक ही जमीन को दो से तीन लोगों को बेचना उसकी रजिस्ट्री ना कर पैसे को डकार जाना किसानों की जमीन को आधा पैसा देकर सामने वाले को बेच कर पूरा रजिस्ट्री कर देना और किसान को फिर बाद में पैसे के लिए घुमाना कई ऐसे मामले हैं जो जल्द खुलकर सामने आएंगे और लक्ष्मण देवांगन को सलाखों के पीछे जाना होगा|

Spread the love