February 21, 2024

सर्व आदिवासी समाज ने बालकदास की गिरफ्तारी सहित हसदेव व सिलगेर मुद्दों को लेकर जेल भरो आंदोलन के तहत बालोद की सड़कों पर किया प्रदर्शन, सैकड़ो प्रदर्शनकारियों ने दी गिरफ्तारी, आदिवासी नेता अरविंद नेताम ने भूपेश सरकार में ट्रायबल विधायकों को बताया बंधुआ मजदूर…. देखें वीडियों

बालोद- छत्तीसगढ़ सर्व आदिवासी समाज द्वारा शुक्रवार को तुएगोंदी घटना मामले में बाबा बालकनाथ की गिरफ्तारी, हसदेव अरण्य में विरोध के बाद भी कट रहे जंगल एवं सिलगेर मामले में दोषियों पर कार्यवाही की मांग को लेकर जिला मुख्यालय में जेल भरो आंदोलन के तहत प्रदर्शन किया गया। शहर के गोंडवाना भवन से शहर के मुख्य मार्ग से होते हुए जय स्तम्भ तक सैकड़ो की संख्या में प्रदर्शनकारी रैली के स्वरूप में पैदल निकले और मांगो को पूरा करने जमकर नारेबाजी की। जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने सरदार वल्लभ भाई पटेल मैदान में गिरफ्तारी दी। आदिवासी नेता व पूर्व सांसद सोहन पोटाई ने बाबा बालक दास को तुएगोंदी घटना का षडयंत्रकारी बताया और कहा कि जब तक बालक दास की गिरफ्तारी नही हो जाती तब तक आंदोलन जारी रहेगा। वही पूर्व केंद्रीय मंत्री अरविंद नेताम ने पूर्व की भाजपा एवं वर्तमान की कांग्रेस सरकार पर बाबा बालक दास को संरक्षण देने का आरोप लगाया है। श्री नेताम ने भूपेश सरकार में 30 से अधिक ट्रायबल विधायकों को बंधुआ मजदूर बताया। वही जेल भरो आंदोलन के मद्देनजर पुलिस द्वारा सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतज़ाम किये गए थे। हजारों की संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई थी। शहर के मुख्य चौक चौराहों पर बैरिकेटिंग की गई थी। कई रूट को डायवर्ट किया गया था। वही आपको बता दे कि आंदोलन के एक दिन पहले गुरुवार देर शाम एसपी जितेंद्र यादव के नेतृत्व ने शहर की सड़को पर फ़्लैग मार्च निकाला था और शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की थी।

Spread the love