May 27, 2024

देखते ही देखते अचानक जानवर बन गया ये शख्स! दंग रह गए लोग

पूर्णिया: बिहार के पूर्णिया से एक हैरतंअगेज घटना सामने आई है। पागल कुत्ते के काटने के बाद एक शख्स जानवरों जैसी हरकतें करने लगा, तत्पश्चात, परिवार वालों को उसके हाथ-पैर बांधने पड़े। परिवार वाले मरीज को लेकर पूर्णिया राजकीय मेडिकल कॉलेज पहुंचे, जहां जांच के बाद उसे पटना रेफर कर दिया।

पीड़ित मरीज की पहचान रुपौली के रहने वाले पंकज राम के तौर पर हुई है। उसके पिता का नाम उमेश राम है। खबर के अनुसार, पंकज राम को कुछ वक़्त पहले कुत्ते ने काटा था, जिसका उसने उस समय उपचार नहीं कराया। तत्पश्चात, उसकी स्थिति खराब हो गई। पागल कुत्ते के काटने के बाद लड़के ने अपना दिमागी संतुलन खो दिया है। मरीज के परिवार वालों ने बताया कि लगभग 2 महीने पहले पंकज राम को किसी पागल कुत्ते ने काट लिया था। कुत्ते के काटने की खबर उसने परिवार वाले को नहीं दी। वक़्त पर उपचार नहीं होने से मंगलवार को अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई तथा वह पागल जानवरों की भांति हरकतें करने लगा।

परिवार वाले आनन-फानन में उसे लेकर पूर्णिया मेडिकल कॉलेज पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने पंकज राम का आरभिंक उपचार करने के बाद पटना रेफर कर दिया। पंकज राम के चाचा ने बताया कि 2-3 माह पहले उसके भतीजे को किसी पागल कुत्ते ने काट लिया था। उन्होंने कहा, इस बात को पंकज ने हल्के में ले लिया तथा किसी को इसकी खबर नहीं दी। जब उसकी अचानक तबीयत बिगड़ने लगी तब घरवालों ने पहले उसे रेफरल हॉस्पिटल रुपौली में एडमिट कराया। शुरुआती उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे पूर्णिया के राजकीय मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल रेफर कर दिया। यहां आने के बाद चिकित्सकों ने जांच के बाद उसे रेबीज की परेशानी बताई तथा पटना रेफर कर दिया। मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के डॉक्टर ने बताया कि रेबीज का कोई उपचार नहीं है, वक़्त पर एंटी रेबीज इंजेक्शन लेना ही बचाव है। यह संक्रमण जंगली जानवरों के काटने से फैलता है। इस के चलते चिकित्सालय परिसर में शख्स पागल जानवरों जैसी हरकतें करता रहा जिसे देखने के लिए वहां लोगों की भीड़ जुट गई।

Spread the love