April 19, 2024

पुष्पांजलि, भजन-कीर्तन कर,जिन्दल कर्मचारियों ने ओपी जिन्दल जी को किया नमन

रायपुर – उद्योग जगत के पुरोधा, जिन्दल स्टील एंड पावर (जेएसपी) के संस्थापक चेयरमैन, हरियाणा के पूर्व ऊर्जा मंत्री, कुरुक्षेत्र से 11वीं लोकसभा के सांसद और समर्पित समाजसेवी ओपी जिन्दल को उनकी 17वीं पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर उनके बताए मार्ग पर चलकर आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का संकल्प लिया गया। यहां मशीनरी डिवीजन के हेरिटेज पार्क में इस अवसर पर आयोजित पुष्पांजलि सभा में कंपनी के प्रेसिडेंट प्रदीप टंडन ने कहा कि एक साधारण किसान परिवार में जन्मे श्री ओपी जिन्दल अपने जीवन की उपलब्धियों के माध्यम से उद्योग जगत के पुरोधा, राजनीति के शिखर पुरुष और समर्पित समाजसेवी के रूप में प्रत्येक भारतीय के लिए प्रेरणा के स्रोत हैं। उनका जीवन सादगी और पौरुष का अनूठा उदाहरण है। विपरीत परिस्थितियों में भी उन्होंने अपने उसूलों से समझौता नहीं किया और आत्मनिर्भर, मजबूत और समृद्ध भारत के निर्माण के लिए सदैव समर्पित रहे। बिजनेस यूनिट हेड नीलेश टी. शाह ने कहा कि बाऊजी ओपी जिन्दल का व्यक्तित्व और आदर्श आज भी लाखों देशवासियों को सुखद भविष्य निर्माण के लिए प्रेरित कर रहा है। उनके दिखाए मार्ग पर चलते हुए चेयरमैन नवीन जिन्दल के नेतृत्व में पूरा जिन्दल परिवार राष्ट्र निर्माण में निरंतर योगदान के लिए कटिबद्ध है।


यूनिट हेड अरविंद तगई ने कहा कि बाऊजी बदलाव के अग्रदूत थे, उन्होंने जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में इतिहास रचा और राष्ट्र को मजबूत बनाया। सदैव स्मरणीय बाऊजी के बारे में कहा जाता है कि जहां दुनिया ने दीवार देखी, बाऊजी ने द्वार देखे। उनका एक ऐसा दूरदर्शी एवं कर्तव्यनिष्ठ व्यक्तित्व है, जो एक सफल उद्योगपति, जनप्रतिनिधि, राजनेता और समर्पित समाजसेवी के रूप में लाखों देशवासियों को प्रेरित कर रहा है। विपरीत परिस्थितियों में भी वे देशहित और समाज हित में चट्टान की तरह अडिग रहे और समाज के सभी वर्गों के उत्थान के लिए आजीवन समर्पित रहे। कारखाना प्रबंधक राकेश गुप्ता ने कहा कि बाऊजी ने अपने हाथों से कई मशीनें बनाईं और देश को आत्मनिर्भरता की राह पर आगे बढ़ाया। मशीनरी डिवीजन इसका जीता-जागता उदाहरण है, जहां सिर्फ जिन्दल स्टील एंड पावर ही नहीं बल्कि देश-विदेश के अनेक कल-कारखानों के लिए मशीनें बनाई जा रही हैं, जो हम सभी के लिए गर्व का विषय है। कार्यक्रम का संचालन करते हुए कार्मिक विभाग के प्रमुख सूर्योदय दुबे ने कहा कि बाऊजी हम सभी के लिए प्रेरणा के स्रोत हैं और उन्होंने अपने सपनों के भारत के निर्माण करने का जो सपना देखा था, उसे साकार करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। इस अवसर पर मशीनरी डिवीजन के समस्त कर्मचारी और अधिकारी उपस्थित थे। बाऊजी ओपी जिन्दल की 17वीं पुण्यतिथि पर मशीनरी डिवीजन स्थित शिव मंदिर में प्रातः भजन-कीर्तन कार्यक्रम का आयोजन किया गया और माना स्थित वृद्धाश्रम में राशन, फल और वस्त्रों का वितरण भी किया गया।

Spread the love