April 19, 2024

कौशल परीक्षा बीना अटकी वेतनवृद्धि, लिपिको ने सौपा ज्ञापन

सक्ती-विगत तीन वर्षों से लिपिको की कौशल परीक्षा आयोजित नही होने के कारण उनकी वेतन वृद्धि अटकी हुई है कौशल परीक्षा आयोजित करने को लेकर 24 जनवरी को लिपिको ने फिर से जिला शिक्षा कार्यालय में जिलाशिक्षा अधिकारी से मुलाकात कर ज्ञापन सौपा और कौशल परीक्षा शीघ्र ही आयोजित किये जाने की मांग की,विगत तीन वर्षों से कौशल परीक्षा आयोजित ना होने के कारण लिपिक वर्गीय कर्मचारियों की वार्षिक वेतनवृद्धि रुकी हुई है लिहाजा हर माह उन्हें आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है इस सम्बन्ध में पूर्व में भी जिलाशिक्षा अधिकारी को अवगत कराया गया था किंतु आज तक ध्यान नही दिया गया है आज लिपिको ने जिलाध्यक्ष(महिला प्रकोष्ठ) इला रॉय चौधरी, कार्यकारी जिलाध्यक्ष विशाल वैभव, संरक्षक के के पाण्डेय, विभागीय अध्यक्ष शिवानन्द राठौर,सतीश राठौर के नेतृत्व में वरिष्ठ सदस्य कौशलेश सिंह क्षत्री, हरनारायण मानसर, श्रवण वैष्णव, पुनीलाल राठौर, पी सी पाण्डेय, उमेश चौहान, प्रसन्न साव, रामचरण राठौर, पंकज राठौर, विनय सिंह बैस, दीनदयाल देवांगन अन्य लिपिको के साथ जिला शिक्षा अधिकारी से मुलाकात कर शीघ्र ही कौशल परीक्षा आयोजित

   

किये जाने की मांग की साथ ही 15 दिवस में आवश्यक कार्यवाही प्रारंभ ना होने की स्थिति में उग्र आंदोलन करने की चेतावनी भी दी गई,जिलाध्यक्ष विशाल वैभव ने बताया कि लोक शिक्षण संचालनालाय, रायपुर के निर्देश के तहत लिपिक वर्गीय कर्मचारियों को वार्षिक वेतन वृद्धि प्राप्त करने हेतु प्रत्येक वर्ष कंप्यूटर कौशल परीक्षा अयोजित किया जाना अनिवार्य है ताकि कर्मचारियों को नियत समय पर वेतन वृद्धि का लाभ प्राप्त हो सके किंतु विगत तीन वर्षों से जिला में कार्यरत लिपिक कर्मचारियों के लिए कंप्यूटर कौशल परीक्षा का आयोजन नही किये जाने के कारण अनेको लिपिक वार्षिक वेतन वृद्धि से वंचित है जिसके कारण उन्हें प्रतिमाह आर्थिक हानि का सामना करना पड़ रहा है बहरहाल जिलाशिक्षा अधिकारी के द्वारा संघ को आश्वस्त किया गया है कि इस सम्बंध में शीघ्र ही प्रक्रिया प्रारंभ की जावेगी।

Spread the love