April 15, 2024

सेवानिवृत्त होकर गृहग्राम लौटे सेना के जवान, स्वागत के लिए उमड़ा पड़ा पूरा गांव

तिल्दा-नेवरा। वतन की सेवा से बड़कर और कोई दूसरा सेवा नहीं होता। वो क्षण बहुत मधुर हो जाता है जब एक जवान अपनी सेवा से मुक्त होकर अपनी मिट्टी में कदम रखता है। ये पंक्ति आज तब चरितार्थ होती दिखाई दी जब एक जवान सेवानिवृत्त होनें के बाद अपने घर लौटा। इस समय हर किसी के जुबांन से बस वंदेमातरम और भारत माता की जयकारे ही निकल रहा था। तो वहीं पूरा गांव जय हिंद के उद्घोष से गुंजायमान हो रहा था। सेना के रूप में देश की सेवा कर सेवा समाप्ति के बाद घर लौटे जवान का ग्रामीणों के द्वारा जोशीला स्वागत किया गया।
बता दें कि इंडियन आर्मी में लगातार 17 साल तक देश की सेवा करने के बाद अपने गृहग्राम तिल्दा ब्लॉक के ग्राम मढ़ी लौटे सेना के जवान कमलेश वर्मा का उनके परिवार और गांव वालों ने बाजा-गाजा के साथ डीजे की धुन में नाचते कुदते रैली निकाल कर स्वागत सम्मान किया। इस मधुर बेला में पारा मोहल्ला ही नहीं बल्कि पूरा गांव एकजुट होकर गांव लौटे जवान का जोशीला स्वागत किया। यह बताना लाजिमी है कि पूरे गांव में कमलेश ही एक ऐसा जवान है जिन्होंने सेना में अपनी सेवा दी है। इसलिए पूरा गांव उनके स्वागत को आगे आए। प्रवीण नायक, डिगम्बर कश्यप, मोती साहू, ओमप्रकाश साहू, सन्नी शर्मा और दिनेश ध्रुव ने रैली का अगुवाई करते हुए गांव का भ्रमण कराया। इस दौरान ग्राम के सरपंच, उपसरपंच और गणमान्य नागरिकों ने भी जवान का फूल माला पहनाकर कर स्वागत किया। रैली के दौरान जवान के ऊपर फूल-माला की बरसात करते हुए घर-घर में भी महिलाओं ने उनकी आरती उतारी और हार माला पहनाकर पूजा अर्चना किए। रैली के दौरान गांव के सभी देवी-देवताओं का पूजा-पाठ कर सेवानिवृत्त जवान ने परिवार के लोगों से मुलाकात कर सगे-संबंधियों से भी मुखातिब हुए। इस दौरान घर में भी परिवार वालों ने उनकी आरती उतारी और गिफ्ट भी भेंट किए। गौरतलब है कि मढ़ी के कमलेश वर्मा ने 2004 से भारतीय सेना में भर्ती होकर पूरा निष्ठा के साथ मुल्क की हिफाजत में डटे रहे। जम्मू कश्मीर से वे सेवानिवृत्ति होकर आज जब गांव लौटे तो उनके स्वागत सम्मान को पूरा गांव उमड़ पड़़ा। मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि मुझे गर्व है कि मैं मढ़ी गांव की मिट्टी में पला-बढ़ा और मुझे देश की सेवा करने का मौका मिला। आगे भी अगर यहां से कोई युवा सेना में भर्ती होना चाहे तो मैं उनका हरसंभव मदद करूंगा। मेरी कोशिश है कि यहां से अधिक से अधिक बच्चे और युवा सेना में जाए और गांव का नाम रोशन करे। इस अवसर पर सरपंच मुक्तानंद शर्मा, उपसरपंच शत्रुहन साहू, देवप्रकाश पैकरा, शेखर पाल, देवेश वर्मा, सागर वर्मा, रोशन पैकरा, नितेश साहू, शुभम कश्यप, रमेश बंछोर, देवव्रत वर्मा, जगदीश यादव अध्यक्ष पूर्व सैनिक परिषद संघ तिल्दा, अश्विनी वर्मा उपाध्यक्ष, सुरेंद्र वर्मा, महेश वर्मा, विकास वर्मा, चंद्रहास वर्मा, टेकराम वर्मा, अर्जुन यादव, खिलेंद्र वर्मा सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।

Spread the love