April 15, 2024

“लोन वर्राटू” अभियान से प्रभावित होकर 10 हजार का ईनामी नक्सली ने थाना कुआकोंडा में किया आत्मसमर्पण

किरन्दुल-जिले में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत दिनांक 20 दिसम्बर को माओवादियों के नक्सल संगठन में कार्यरत सक्रिय ईनामी नक्सली मिलिशिया सदस्य – बामन कवासी (करटाम) उर्फ चमन लाल पिता लिंगा उम्र 36 वर्ष साकिन बडेगुडरा कवासीपारा ने माओवादी संगठन के खोखली विचारधारा से तंग आकर लोन वर्राटू (घर वापस आइए) अभियान तथा छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास योजना से प्रभावित होकर समाज के मुख्य धारा से जुड़कर विकास में सहयोग करने की इच्छा व्यक्त कर डॉ. अभिषेक पल्लव पुलिस अधीक्षक दन्तेवाड़ा के समक्ष थाना कुआकोंडा में आत्मसमर्पण किया। ज्ञात हो कि जिला दन्तेवाड़ा के विभिन्न ग्रामों के नक्सली संगठन में सक्रिय सदस्यों की घर वापसी हेतु थाना / कैम्पों एवं ग्राम पंचायतो में संबंधित क्षेत्र के सक्रिय माओवादियों के नाम चस्पा कर माओवादी संगठन के खोखली विचारधारा को छोड़कर समाज की मुख्य धारा में शामिल होने हेतु लोन वर्राटू (घर वापस आइए) अभियान चलाया जा रहा है एवं डॉ. अभिषेक पल्लव पुलिस अधीक्षक दन्तेवाड़ा के द्वारा नक्सली संगठन में सक्रिय माओवादियों से आत्मसमर्पण कर सम्मानपूर्वक जीवनयापन करने के लिये लगातार आव्हान कर अपील किया जा रहा है। इस दौरान विनय कुमार सिंह पुलिस उप महानिरीक्षक ऑप्स, सीआरपीएफ 111वीं वाहिनी कमांडेंट अम्ब्रेश कुमार,हर्षपाल सिहं द्वितीय कमान अधिकारी राजेन्द्र जायसवाल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दन्तेवाडा,कमलजीत पाटले पुलिस अनुविभागीय अधिकारी कुआकोंडा,अजय कुमार मिश्रा सहायक कमाण्डेंड 111वीं वाहिनी सीआरपीएफ निरीक्षक खोमन सिंह भण्डारी थाना प्रभारी कुआकोंडा,निरीक्षक प्रवीण प्रकाश पाराशर सी.आर.पी.एफ के समक्ष आत्मसमर्पण किया है जिसमे थाना के अन्य अधिकारी  कर्मचारीगण भी उपस्थित रहे।

उक्त आत्मसमर्पित माओवादी जन मिलिशिया सदस्य बामन कवासी (करटाम), उर्फ चमन लाल पिता लिंगा कवासी साकिन बडेबेडमा कवासीपारा थाना कुआकोंडा के कई मामलों में संलिप्त था।जिस पर पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा द्वारा 10000/ रु ईनाम घोषित है।

Spread the love